Indian Railways : दिवाली और छठ पूजा पर घर जाने वालों को अब मिलेगा कंफर्म टिकट, रेलवे ने 34 स्पेशल ट्रेनों का किया ऐलान.

Indian Railways started 34 special train
Join Our WhatsApp Group Join Now
Join Us On Telegram Join Now
34 special train

Indian Railways started 34 special train : नवरात्रि के साथ ही देशभर में त्योहारी सीजन की शुरुआत हो गई. पहले दशहरा, फिर दिवाली और छठ पूजा के चलते बड़ी संख्या में लोग शहरों से गांव और बाद में गांव से शहरों की ओर लौटेंगे. इस त्योहारी भीड़ को मद्देनजर रखते हुए रेलवे 34 स्पेशल ट्रेनें चलाएगा, जो 377 फेर लगाएंगी. इन ट्रेनों में उपलब्ध कुल सीटों की संख्या 5980 होंगी. इनमें से 1326 जनरल क्लास, 3328 स्लीपर और 2513 सीटें AC कोच में होंगी. ये विशेष ट्रेनें 18 अक्टूबर से 11 दिसंबर के बीच चलेंगी और इस दौरान 377 यात्राएं करेंगी. इसमें 351 यात्राएं देश के पूर्वी हिस्से की ओर और 26 यात्राएं उत्तरी क्षेत्र में शामिल हैं.

इसके अलावा, त्योहारी सीजन में यात्रियों की भारी संख्या को देखते हुए 69 ट्रेनों में 152 अतिरिक्त डिब्बे जोड़े गए हैं. इस अलर्ट में रेलवे ने यात्रियों से टिकट को लेकर दलालों से बचने की सलाह दी है. इसके अलावा रेलवे ट्रैक की लगातार निगरानी होगी और इनके आसपास होने वाले कार्यक्रमों पर भी नजर रखी जाएगी.  दुर्गा पूजा, दीपावली और छठ पूजा में यात्रियों की बढ़ती भीड़ को देखते हुए रेलवे ने स्पेशल ट्रेनें चलाने का ऐलान किया है.

34 अतिरिक्त ट्रेनें चलाने का ऐलान :

भारतीय रेलवे ने त्योहारी सीजन में यात्रियों की सुविधा के लिए 34 अतिरिक्त ट्रेनें चलाने का फैसला किया है. इन विशेष गाड़ियों में 5980 सीटें होंगी. नॉर्दर्न रेलवे के जीएम शोभन चौधरी ने कहा कि अभी दुर्गा पूजा स्पेशल ट्रेनें चलाई जाएंगी.  इसके बाद दीपावली और छठ पूजा के लिए भी स्पेशल ट्रेनें चलेंगी. इसके अलावा रेलवे स्टेशनों पर भी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए विशेष उपाय होंगे.

छठ पूजा को लेकर बड़ी संख्या में दिल्ली-मुंबई जैसे महानगरों से यूपी और बिहार के शहरों की ओर जाते हैं इसलिए खासकर इस रूट की ट्रेनों पर यात्री ट्रैफिक का दबाव ज्यादा रहता है. इसलिए इस रूट पर रेलवे खास ध्यान दे रहा है. दिल्ली से यूपी और बिहार के लिए चलने वाली स्पेशल ट्रेनों में से ज्यादातर ट्रेनें आनंद बिहार स्टेशन से चलेंगी.

महत्वपूर्ण ट्रेनों के कारण लेट नहीं होंगी विशेष ट्रेनें :

शोभन चौधरी ने कहा, “विशेष ट्रेनें चलाने के अलावा, हमने बुकिंग काउंटरों पर लंबी लाइनों से बचने के लिए विशेष टिकट खिड़कियां खोलने और सभी मौजूदा खिड़कियों को चालू करने का फैसला किया है.” विशेष ट्रेनों के लेट होने के सवाल पर चौधरी ने कहा कि हम ट्रेनों के आने और जाने के निर्धारित समय को बनाए रखेंगे और अन्य महत्वपूर्ण ट्रेनों के कारण लेट नहीं होने देंगे.

ट्रेन के समय का खास ध्यान रखा जाएगा- रेलवे :

चौधरी ने कहा, “ये अतिरिक्त ट्रेनें हमारे लिए अन्य ट्रेनों जितनी ही महत्वपूर्ण हैं और मैं विशेष ट्रेनों से यात्रा करने की योजना बना रहे सभी यात्रियों को आश्वस्त करूंगा कि उनकी समय की पाबंदी बनाए रखी जाएगी.” उन्होंने 19 अक्टूबर, 2018 की अमृतसर ट्रेन दुर्घटना जैसी दुर्घटनाओं से बचने के लिए उत्तर रेलवे द्वारा किए गए सुरक्षा इंतजामों से संबंधित सवालों का भी जवाब दिया.

दुर्घटनाओं से बचने के लिए विशेष प्रवधान करेंगे- रेलवे :

उन्होंने कहा, “यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण और दुखद ट्रेन हादसा था। हम इन जगहों पर अपने रेलवे कर्मचारियों और रेलवे सुरक्षा बल के जवानों को तैनात करेंगे ताकि ऐसी दुर्घटनाएं दोबारा न हों. इसके अलावा, मैं लोगों से अनुरोध करूंगा कि वे त्यौहार मनाते समय रेलवे ट्रैक से दूर रहें क्योंकि ट्रेनें तुरंत नहीं रुक सकतीं. एक बार जब ड्राइवर ब्रेक लगाता है, तो ट्रेन रुकने से पहले लगभग एक किलोमीटर की दूरी तय करती है.”

टिकट के लिए दलालों से बचें यात्री :

चूंकि, त्योहार के समय में टिकटों की मारामारी रहती है इसलिए लोग दलालों के झांसे में आ जाते हैं. लेकिन, नॉर्दर्न रेलवे के जीएम ने यात्रियों को दलालों से सावधान रहने की सलाह दी. उन्होंने कहा कि यात्री वैध काउंटर से ही टिकट लें.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top