Satellite Calling : सैटेलाइट कॉलिंग आने के बाद क्या बंद हो जाएंगे मोबाइल टावर.

Satellite Calling
Join Our WhatsApp Group Join Now
Join Us On Telegram Join Now
Satellite Calling

Satellite Calling : स्मार्टफोन जितनी सहूलियत वाला गैजेट है, उतनी ही हमारे लिए यह मुसीबत भी है. यदि आपके पास स्मार्टफोन है तो आप समझ लीजिए कि आपका निजी जीवन नहीं है. आपकी सब चीजें सार्वजनिक है. स्मार्टफोन ने हमारी जिंदगी में इस तरह से घुसपैठ बनाई है कि हमसे ज्यादा इसे हमारे बारे में जानकारी हासिल है. आमतौर पर हम ट्रैकिंग से बचने के लिए फोन की लोकेशन और इंटरनेट को बंद कर देते हैं लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी कि इसके बावजूद भी आपकी ट्रैकिंग लगातार हो रही है और यह सब सैटेलाइट ट्रैकिंग के जरिए हो रहा है.

दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स में सामने आया है कि ऐप्पल कंपनी का पार्टनर संकेत दे चुका है कि सैटेलाइट पावर पर काम करने वाली कॉल्स और इंटरनेट सर्विस का विस्तार किया जा सकता है. यह जानकारी अमेरिकी के रेगुलेशन Federal Communications Commission (FCC) को दी.

दरअसल, Apple ने बीते साल सितंबर के दौरान अपना लॉन्चिंग इवेंट आयोजित किया था. इस इवेंट के दौरान कंपनी ने पहली बार iPhone 14 सीरीज के लिए सैटेलाइट फीचर का ऐलान किया था. यह फीचर Emergency SOS सर्विस है. इस बार iPhone 15 सीरीज के साथ भी ये फीचर दिया गया है.

Emergency SOS पहले ही अपनी उपयोगिता को साबित कर चुका है. इसकी मदद से कई यूजर्स बिना मोबाइल नेटवर्क कनेक्टिविटी या वाईफाई के मैसेज या फिर कॉल कर सकते है. यह सर्विस रिमोट एरिया में उपयोगी साबित होगी. इसके अतिरिक्त फाइंड माय ऐप सैटेलाइट कनेक्टिविटी फीचर का इस्तेमाल करके लोकेशन भी दूसरे यूजर्स तक शेयर कर पाएगा.

अगर यह तकनीक कॉमन हो जाती है और कंपनी इस सर्विस के चार्जेस कम करती है, तो यह तकनीक आने वाले समय में मोबाइल नेटवर्क टावर की जरूरत को खत्म कर सकती है. अभी लोगों को कॉल, मैसेज और इंटरनेट कनेक्टिविटी के लिए आसपास मोबाइल टावर की जरूरत पड़ती है.

हालांकि यह सपना काफी दूर है, क्योंकि अभी सिर्फ Apple और huawei जैसे ब्रांड ने ही सेटेलाइट कनेक्टिवीटी का फीचर पेश किया है. साथ ही यह अभी एक फ्लैगशिप फोन का फीचर है.

FCC से खुलासा हुआ है कि T-Mobile और SpaceX के साथ मिलकर सैटेलाइट इंटरनेट सर्विस प्रोवाइड करने में मदद करेंगे. यह सर्विस टी मोबाइल को मिलेगी. ग्लोबस्टार ने बताया है कि उनकी मोबाइल सैटेलाइट सर्विस हर जगह सपोर्ट करेगी. इसमें लाइसेंस स्पेक्ट्रम मिलेंगे. ऐसे में संकेत मिलते हैं कि निकट भविष्य में ऐपल को सैटेलाइट वॉयस कॉल्स और इंटरनेट कनेक्टिविटी का फीचर मिलेगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top